सेना के जवान ने की आत्महत्या, गमगीन माहौल में दी गई अंतिम विदाई

0
162

फतेहाबाद। गांव जांडली खुर्द निवासी बटालियन 16 रेजिमैंट के सिपाही संदीप कुमार ने मानसिक रूप से परेशान होकर आत्म हत्या कर ली। सिपाही का पार्थिक शरीर सोमवार की सुबह सात बजे जांडली खुर्द लाया गया। स्थानीय प्रशासनिक अधिकारियों ने सैनिक की चिता पर पुष्प अर्पित कर उसे श्रद्धांजलि दी तथा सलामी देकर सैनिक को अंतिम विदाई दी गई। नायब तहसीलदार विजय सिंह व एसएचओ रमेश कुमार किरमारा ने पुष्प चक्र चढ़ाए। जांडली खुर्द के सैकड़ों लोगों ने गमगीन माहौल में अपने जवान को श्रद्धांजलि दी।
बटालियन 16 जाट रेजिमेंट के नीलम सिंह ने बताया कि संदीप कुमार बहुत ही अच्छा नौजवान था। जो ड्यूटी में हमेशा सजग रहता था, लेकिन वह कुछ मानसिक परेशानियों में था, इसलिए उसने ऐसा कदम उठाया। जो एक जवान के लिए नहीं होना चाहिए था। उन्होंने कहा कि 1 जून की रात को संदीप कुमार भोजन करने के बाद टहलने गया था, लेकिन सुबह उसका शव एक पेड़ पर फांसी के फंदे पर लटका हुआ पाया गया। इसकी सूचना सैनिक के भाई रमेश कुमार को दी गई। जिसके बाद सोमवार को उनके परिजन लखनऊ से संदीप का पार्थिक शरीर ले आए।
जांडली खुर्द निवासी पूर्व सैनिक नागर सिंह के पांच बेटे हैं जिनमें दो सेना में लगे हुए थे। इनमें सबसे छोटे 30 वर्षीय बेटे संदीप कुमार ने आत्म हत्या कर ली। जिससे पूरे परिवार को गहरा सदमा पहुंचा है। बड़े भाई दलेल सिंह, दिलबाग सिंह, रमेश कुमार, राजेश उर्फ राजा को अपने भाई के उठाए गए कदम से गहरा झटका लगा है। उन्होंने कहा कि उनके पिता ने भी सेना में रहकर देश के लिए सेवा दी थी। जो अब इस दुनिया में नहीं है। संदीप के उठाए गए कदम से परिवार के साथ-साथ पत्नी का भी रो-रोकर बुरा हाल बना हुआ है।
संदीप के भाई रमेश कुमार ने बताया कि दस साल पहले उसके भाई ने लखनऊ में बटालियन 16 जाट रेजिमेंट में ड्राईवर एमटी विंग में ड्यूटी ज्वाईन की थी।
सैनिक का पार्थिक शरीर जांडली खुर्द में आने की सूचना पाकर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला भी मौके पर पहुंचे। सुभाष बराला ने सैनिक की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया। और उनके परिवार व बच्चों को ढांढस बंधाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here