विश्वविद्यालय के हॉस्टल में छात्रा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

0
17

कानपुर। कल्याणपुर थानाक्षेत्र के छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के हॉस्टल में बीएससी की छात्रा ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने छात्रा के शव को फांसी के फंदे से उतारा और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने मौके पर मिले सुसाइड नोट की जांच कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।
छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय के कैंपस से अलंकृता कश्यप बीएससी बायोटेक कर रही थी| उसने इसी वर्ष प्रवेश लिया था। अलंकृता विश्वविद्यालय परिसर में कावेरी हॉस्टल के कमरा नंबर 303 में रहती थी। छात्रा मंगलवार को दिनभर कमरे से नहीं निकली। विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह के चलते वार्डन ने भी ध्यान नहीं दिया| जब देर शाम छात्रा भोजन करने नहीं आयी तब अन्य छात्राओं ने वार्डन को जानकारी दी। जानकारी पर पहुंची वार्डन ने कमरे में देखा तो दरवाजा अंदर से बंद था और छात्रा फांसी के फंदे पर झूल रही थी। छात्रा की आत्महत्या से विश्वविद्यालय परिसर में हड़कंप मच गया| छात्र-छात्राएं वहां पर जुटने लगे। वार्डन ने पूरे मामले की जानकारी विश्वविद्यालय प्रबंधन को दी और देर रात प्रबंधन ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर फंखे से सहारे झूल रहे शव को नीचे उतारा और कमरे की तलाशी ली। एक सोसाइड नोट बरामद हुआ और फॉरेंसिक टीम को बुलाकर साक्ष्य जुटाये गये। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए देर रात को ही पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
क्षेत्राधिकारी राजेश पाण्डेय ने बताया कि छात्रा मूल रूप से बिहार की रहने वाली थी| उसके पिता सरकारी नौकरी में हैं और इन दिनों कन्नौज में तैनात हैं। परिजनों को जानकारी दे दी गयी है और उनके आने के बाद छात्रा के शव का पोस्टमार्टम आज बुधवार को होगा। छात्रा के कमरे से जो सोसाइड नोट मिला है उसमें छात्रा ने पढ़ाई के दबाव में आत्महत्या की वजह बताई है। फिलहाल फॉरेसिंक टीम को कुछ अहम सुराग लगे हैं और सोसाइड नोट को जांच के लिए भेजा जा रहा है। जांच रिपोर्ट और परिजनों की तहरीर पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here