महाशिवरात्रि पर गंगा संरक्षण की शपथ

0
70

नई दिल्ली। महाशिवरात्रि के अवसर पर दिल्ली में गंगाजल की 1 लाख बोतलें निःशुल्क बांटी गईं, जिससे शिवभक्तों को गंगाजल के लिए अतिरिक्त प्रयास नहीं करना पड़ा। इन्द्रप्रस्थ संजीवनी की पहल पर महामंडलेश्वर स्वामी प्रज्ञानंद जी महाराज ने नारायणा विहार के श्री सनातन धर्म मंदिर में गंगा जल वितरण कर कार्यक्रम की शुरुआत की। मंगलवार को शिवरथ को रवाना करते हुए महामंडलेश्वर स्वामी रामानंद महाराज, साध्वी ज्योर्तिमय एवं स्वामी शैलेशानंद महाराज के अतिरिक्त पूर्व ब्रह्मांड सुंदरी रूबी यादव, पी आर शर्मा व एंकर राम गोपाल शुक्ला उपस्थित थे। सभी ने श्रीसनातन धर्म मंदिर में गंगा जल वितरण से पहले पवित्र गंगा सहित सभी नदियों के संरक्षण की शपथ ली तथा जल संरक्षण के उपायों को बढ़ावा देने का संकल्प लिया। इस अवसर पर स्वामी प्रज्ञानंद महाराज ने संस्था के अध्यक्ष संजीव अरोड़ा के भगीरथ प्रयास को सराहते हुए उन्हें गंगापुत्र की उपाधि दी और कहा कि राजधानी दिल्ली में इस तरह के प्रयास सचमुच गंगा संरक्षण को बढ़ावा मिलेगा। इस अवसर पर स्वामी शैलेशानंद ने इस महती कार्य के लिए शुभकामना देते हुए कहा कि दिल्ली में महाशिवरात्रि के अवसर पर घर-घर जाकर गंगाजल पहुंचाना सचमुच एक किस्म का भगीरथ प्रयास है और इसे आगे भी जारी रखने की जरूरत है। जबकि, रूबी यादव ने कहा कि संजीव आरोड़ा अभी युवा हैं और युवापन में इतने धीर-गंभीर कार्य कर रहे हैं, इसकी जितनी प्रशंसा की जाए, कम है। क्योंकि इस अवस्था में लोग निजी जीवन में पुरुषार्थ करने में व्यस्त होते हैं, लेकिन संजीव जनहित में दिल्ली को गंगामय करने में जुटे हैं। यह सचमुच भगीरतथ प्रयास ही है। इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष संजीव अरोड़ा ने उपस्थित महानुभावों का प्रतीक चिह्न व पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि संभवतः यह देश का पहला कार्यक्रम है, जिसमें इतने बड़े स्तर पर गंगा जल वितरण किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here