‘प्रधानमंत्री सुकन्या योजना’ वायरल मैसेज़ का सच

0
1273

भानु प्रताप सिंह/नई दिल्ली।

सोशल मीडिया पर आये दिन लोग अलग-अलग तरीके के भड़काऊ व फेक न्यूज़ व मैसेज अपलोड करते रहते हैं। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक मैसेज कॉफी तेजी से फैल रहा है। जिसमें दावा किया जा रहा है कि प्रधानमंत्री सुकन्या योजना के तहत 1 से 18 साल तक की बेटियों को निःशुल्क 10 हजार का चेक दिया जा रहा है। और इस मैसेज में आवेदन की अन्तिम तिथि 15 अगस्त बताई गयी है। मैसेज में यह भी लिखा है कि इस मैसेज को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक भेजें। साथ ही मैसेज में आवेदन के लिए एक लिंक भी शेयर किया जा रहा है।

क्या है ये पूरा मैसेज
सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे मैसेज में लिखा है-
प्रधानमंत्री बालिका समृद्धि योजना 2018
प्रधानमंत्री द्वारा 1 से 18 साल की बालिकाओं को निःशुल्क 10 हजार का चेक दिया जा रहा है। बालिकाओं के भविष्य के लिए इस योजना को चालू किया गया है।
आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 अगस्त है तो जल्दी करें और इस मैसेज को अपने सभी दोस्तों को भेजें ताकि इस योजना का लाभ सभी को मिल सके।
अभी आवेदन करें
http://sukanya-yojna.m-indian-gov.in/”

हमारी पड़ताल में मिला
-जब यह मैसेज हमारे पास आया तो हमने इसकी पड़ताल की। हमने मैसेज में नीचे दी हुई लिंक पर क्लिक किया। तो स्क्रीन पर प्रधानमंत्री सुकन्या योजना लिखा हुआ था। साथ ही एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म भी खुला।
-फॉर्म में कन्या का नाम, आवेदक का नाम, उम्र और राज्य का नाम भरना था। हमने फार्म में सभी जानकारियां गलत भर दीं। बावजूद इसके फॉर्म सबमिट हो गया।
-अगली स्टेप में आपको वेरिफिकेशन के लिए कहा जाता है। जिसके लिए आपको इस मैसेज को दस लोगों को फारवर्ड करने को कहा जाता है फिर आपको रजिस्ट्रेशन नंबर मिलता है।
-जब हमने इसकी पड़ताल की तो यह मैसेज पूरी तरह गलत साबित हुआ। ऐसे मैसेज अधिक शेयर करके सिर्फ पैसे कमाये जाते हैं। हमने वेवसाइट के ‘‘About Us’’ पर जाकर देखा तो यहां लिखा था कि ‘‘यह वेबसाइट भारत सरकार से जुड़ी हुई नहीं है।’’

यह मैसेज पूरी तरह गलत साबित हुआ क्योंकि
-इस मैसेज में जो लिंक दी हुई है वह भारत सरकार से संबंधित नहीं है। भारत सरकार की लिंक india.gov.in है।
-सुकन्या समृद्धि योजना के तहत भारत सरकार कोई भी पैसा नहीं दे रही है। सरकारी दस्तावेजों से मिली जानकारी के अनुसार, यह योजना के लिए है और इसके जरिए 10 वर्ष तक की कन्याओं के बैंक में निःशुल्क खाते खुल रहे हैं।
-इसके अलावा माता-पिता या संरक्षक अपनी 14 वर्ष तक की बेटियों का खाता इस योजना के तहत खुलवा सकते हैं। इस अकाउंट में कम से कम 250 रु. तथा अधिक से अधिक 1.50 लाख रु. जमा किये जा सकते हैं। 14 साल से अधिक उम्र की बेटियों का अकाउंट इस योजना के तहत नहीं खुलवाया जा सकता।

इस तरह की फेक वेबसाइट काफी ज्यादा वायरल होती रहती हैं और इनका मकसद सिर्फ और सिर्फ पैसा कमाना होता है। हालांकि यह वेबसाइट किसने बनायी, इसकी कोई जानकारी नहीं मिली। क्योंकि ऐसी वेबसाइट पर ऐड (विज्ञापन) अधिक आते हैं और जितने ही ज्यादा हिट्स होते हैं कमाई उतनी ही अधिक होती है।
ऐसी वेबसाइट का इस्तेमाल हैकर्स भी करते हैं। वेबसाइट पर आपके द्वारा दी गयी जानकारियों की मदद से हैकर्स आपके पासवर्ड अथवा किसी डेटा को भी हैक कर सकते हैं। दरअसल, आमतौर पर लोग अपने पासवर्ड अपना नाम, पिता का नाम, या जन्मतिथि ही रखते हैं। जिससे जानकारियां जोड़कर कोई भी डेटा हैक किया जा सकता है। इसलिए इस वेबसाइट पर कोई भी निजी जानकारी न दें। और इस तरह की अन्य गलत वेबसाइट से बचें व उन्हें वायरल न करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here