कर्नाटक कांग्रेस ने विधायकों को रोकने के लिए ईगलटन रिजॉर्ट में बुक किये 100 कमरे

0
45

chandra bhushan tiwari
नई दिल्ली/बेंगलूरू । कर्नाटक में सरकार बनाने की कवायद के तहत कांग्रेस पार्टी ने केरल के ईगलटन रिजॉर्ट में अपने विधायकों को रखने का फैसला किया है। पार्टी की ओर से इस रिजॉर्ट में 100 कमरे बुक किये गए हैं। उल्लेखनीय है कि ये वही रिजॉर्ट है जहां 2017 में गुजरात के राज्‍यसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस के विधायकों को रखा गया था। पार्टी ने उस वक्त भी भाजपा पर विधायकों के खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया था| कांग्रेस उसे आज भी प्रासंगिक साबित करना चाहती है। उस समय कर्नाटक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार ने अहम भूमिका निभाई थी। इसलिए सूत्रों के अनुसार इस बार भी कांग्रेस आलाकमान ने उन्हें विधायकों की हॉर्स ट्रेडिंग रोकने की ज़िम्मेदारी सौंपी है।दरअसल कर्नाटक विधानसभा के चुनावी समीकरण के अनुसार भाजपा- कांग्रेस और जनता दल (सेकुलर) जेडीएस गठबंधन से बहुमत सबित करने के लिए मात्र 8 सीटों से पीछे है। इसलिए कांग्रेस भाजपा पर विधायकों खरीद-फरोख्त के आरोप लगा रही है। कर्नाटक कांग्रेस प्रवक्ता शबीना सुल्ताना का का दावा है कि भाजपा की ओर से कांग्रेस विधायकों को फोन कर के प्रलोभन दिया जा रहा है। उसके बाद कांग्रेस आलाकमान के निर्देश के बाद पार्टी ने केरल के इस रिजॉर्ट में अपने विधायकों और जेडीएस के विधायकों को भेजने का फैसला किया है। कर्नाटक के इस सियासी उठा-पटक के बीच केरल पर्यटन के आधिकारिक ट्विटर हैंडल ने एक ट्वीट किया है कि हम सभी विधायकों को केरल के सुरक्षित और खूबसूरत रिजॉर्ट में आमंत्रित करते हैं।
इस बीच कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने मंगलवार को शाम पांच बजे राज्यपाल गुजुभाई से मिलने का समय मांगा है। इससे पहले भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा ने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पत्र पेश कर दिया है। इसके साथ ही कर्नाटक के बेंगलुरु में कांग्रेस ने विधायक दल की बैठक बुलाई। इस बैठक में पार्टी को 74 विधायकों और एक एक निर्दलीय विधायक का समर्थन मिला। कांग्रेस के चार विधायकों के बैठक में न पहुंचने से अटकलों को पर लगे हैं| कांग्रेस के विधायकों ने भी राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here